PM Janman Yojana 2024, पीएम जनमन योजना में 1 लाख लाभार्थियों को मिला पहली किस्त,

पीएम जनमन योजना 2024,
प्रधानमंत्री 15 जनवरी दोपहर 12:00 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के एक लाख लाभार्थियों को पहली किस्त जारी किया। किश्त जारी करते समय प्रधानमंत्री ने जनजाति तथा आदिवासियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत भी किया।

पीएम जनमन योजना क्या है?
प्रधानमंत्री जनमन योजना एक ऐसी योजना है जिसके माध्यम से जंगलों और पहाड़ों में रहने वाले जनजाति और आदिवासी को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री उन वंचित जातियों को सभी सरकारी सुविधाएं प्रदान करने की लक्ष्य रखा है। अभी तक के जी ने सुदूर स्थानों में रहने वाले जनजाति और आदिवासी को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा था उनको इस सरकारी सुविधाओं को पहुंचना है।
प्रधानमंत्री जनमन योजना की शुरुआत कब हुई थी?
पीएम जनमन योजना की शुरुआत 15 नवंबर 2023 को जनजाति गौरव दिवस के अवसर पर शुभारंभ किया गया था। इस योजना का उद्देश्य वैसे व्यक्ति जो अंतिम छोर पर मौजूद है अंतिम व्यक्ति को सशक्त बनाने के उद्देश्य से किया गया था। इस योजना का उद्देश्य विशेष रूप से कमजोर जनजाति समूह के व्यक्ति आर्थिक कल्याण के लिए किया गया था। इस योजना का मुख्य उद्देश्य जंगलों और पहाड़ी क्षेत्रों में रहने वाले जनजाति और आदिवासी को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करना है। जैसे सुरक्षित आवास स्वच्छ पेयजल, सड़क और रोजगार की सुविधा, आदि प्रदान करना है।
इस योजना में 24000 करोड रुपए के बजट का प्रावधान है।
24000 करोड रुपए के बजट के साथ पीएम जनमन 9 मंत्रालयों के माध्यम से 11 महत्वपूर्ण हस्तक्षेपों पर केंद्रित है और इसके उद्देश्य से जनजाति और आदिवासी को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करना है जैसे आवास, स्वच्छ पेयजल सड़क और रोजगार का साधन।

पीएम जनमन योजना के उद्देश्य।
पीएम जनमन योजना का मुख्य उद्देश्य जंगल और पहाड़ों में रहने वाले आदिवासियों तक मूलभूत सुविधाएं पहुंचना है।
इस योजना के तहत वंचित जनजाति और आदिवासी तक सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करना है। 15 जनवरी 2024 से को प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ़िगरेशन के माध्यम से बातचीत किया और आवास का पहली किस्त जारी किया।
इस योजना के माध्यम से अधिक से अधिक के कमजोर और आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्तियों को सरकारी सुविधाएं प्रदान करना है।
जनधन खाता खोले जाएंगे।
जनजाति तथा आदिवासियों का जनधन खाता खोला जाएगा ताकि उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके। जैसे उज्ज्वला योजना तथा किसान सम्मन निधि योजनाओं का लाभ उन्हें मिल सके।
उज्ज्वला योजना का लाभ मिल सके।
जनधन खाता खोलने से जनजाति और आदिवासियों को उज्ज्वला योजना तथा सोलर पैनल सिस्टम का लाभ है लेने के लिए उन्हें जनधन खाता खोला जाना जरूरी है।
पीएम जनमन योजना का लाभ किसे मिलेगा।
पीएम जनमन योजना का लाभ उन सुदूर स्थानों पर रहने वाले जनजाति और आदिवासी जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं उन्हें मूलभूत सुविधाएं प्रदान करना है। जो अभी तक के सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित थे।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ