जीविका दीदी की बल्ले बल्ले, अब 3500 सोलर मार्ट की करेगी संचालित।

जीविका दीदी की रोजगार बढ़ाने के लिए सरकार तरह-तरह की योजनाएं निकलती रहती है। कुछ दिन पहले जीविका दीदी के लिए सरकार ने दीदियों देने का ऐलान किया था। दीदी ड्रोन चला कर अपनी आमदनी को बढ़ा सके इस उद्देश्य से सरकार ने ऐसा योजना बनाई थी। सरकार जीविका डॉन के लिए सोलर मार्ट चलाने के लिए यानी संचालित करने के लिए योजना बनाई है। जिससे जीविका दीदियों की आमदनी बढ़ सके और गांव का विकास हो सके।

गांव में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए 3500 सोलर मार्ट खोले जाएंगे। यहां सोलर पावर से संबंधित सारे सामान बिकेंगे। सोलर लाइट सोलर एलइडी, फ्रिज ड्रायर, सोलर टॉर्च के साथ कोल्ड स्टोरेज के सामान भी लोग खरीद सकेंगे। जीविका डेडिया सोलर मार्च चलाएगी। मार्ट खोलने के लिए ₹40000 की आर्थिक सहायता दी जाएगी। इस महीने 45 सोलर मार्ट बेगूसराय और मुजफ्फरपुर में खुलेंगे। बेगूसराय में 5 और मुजफ्फरपुर में 40 मार्च खुलेंगे। 400 जीविका डॉन को सोलर मार्ट और सौर ऊर्जा उपकरण के इस्तेमाल के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा।

गुरुवार को जीविका और सेल को फाउंडेशन के बीच एम ओ यू हुआ। इस बीच जीविका के पुष्पेंद्र तिवारी मौजूद रहे।

जीविका दीदी सौर ऊर्जा से संचालित मसाला तेल डाल आता और सिलाई मशीन से गांव में रोजगार का सृजन करेगी। इसके साथ गांव में फलों और सब्जियों को सुखाने के लिए सोलर ड्रायर का इस्तेमाल करेगी। फल और सब्जियों को सुखाकर रखने पर लंबे समय तक इनका इस्तेमाल किया जा सकता है। खासकर टमाटर मटर गोभी और गाजर को सुखाकर कई महीने इस्तेमाल किया जाता है। जीविका डॉन को अनुदानित दर पर सोलर ड्रायर दिया जाएगा।

इससे फल सब्जियों की बर्बादी रुकेगी और गांव में कुटीर उद्योग को बढ़ावा मिलेगा। गांव में गर्मी के दिनों में सौर ऊर्जा से चलने वाला
 फ्रिज लोगों को राहत देगा। अपना उद्यम चलने वाली जीविका डॉन को सोलर फ्रिज दिया जाएगा। इसके जरिए गांव में दूध सब्जियों और पेय पदार्थ को अधिक समय तक संरक्षित किया जा सकेगा

समझौते के तहत सोलर पावर मशीनों को चलाने और रिपेयरिंग के लिए जीविका दीदियों को प्रशिक्षित किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ