रोजगार संगम भत्ता योजना में आवेदन करने से 1000 से 1500 रुपया प्रति माह मिलेगा,इस प्रकार ऑनलाइन आवेदन करें।

सरकार बेरोजगार युवाओं के लिए तरह-तरह की योजनाएं लाती रहती है ताकि बेरोजगार युवा खराब आर्थिक स्थिति के कारण गलत काम न करने लगे। इसी तरह उत्तर प्रदेश सरकार ने रोजगार संगम भत्ता योजना की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से बेरोजगार युवाओं को 1000 से ₹1500 प्रतिमाह देने की घोषणा की है। सरकार वैसे बेरोजगार युवाओं को यह भत्ता देगी जिनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण बहुत से बेरोजगार युवा अपने कौशल का प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं तथा वह अपनी पसंद की नौकरी नहीं ढूंढ पाते हैं। इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार रोजगार संगम भाटा योजना की शुरुआत की है। ताकि बेरोजगार युवा आर्थिक स्थिति के कारण निराश ना हो और उन्हें नई नौकरी ढूंढने का अवसर भी मिले।
रोजगार संगम भत्ता योजना का मुख्य उद्देश्य।
रोजगार संगम भट्ट का निम्नलिखित मुख्य उद्देश्य है।
1 रोजगार सृजन,।  इस योजना का मुख्य उद्देश्य नौकरी के अवसरों को बढ़ावा देना है ताकि लोग आत्मनिर्भर बन सके और अपनी आर्थिक स्थिति को सुधार सके।
2, आर्थिक सहारा,।  भत्ता योजना के माध्यम से सरकार बेरोजगार युवाओं को आर्थिक सहारा प्रदान करना जिनकी आर्थिक स्थिति खराब है।
3, शिक्षा और प्रशिक्षण
इस योजना के तहत सरकार शिक्षा और प्रशिक्षण के अवसर प्रदान करना है ताकि बेरोजगार युवा अपने कौशल को बढ़ावा दे सके। इस योजना का उद्देश्य बेरोजगार युवाओं को उच्चतम रोजगार के लिए तैयारी करना भी है।
ग्रामीण विकास
इस योजना का एक उद्देश्य से ग्रामीण क्षेत्रों में युवाओं को रोजगार देना ताकि गांव का विकास हो सके। गांव के बेरोजगार युवाओं को नौकरी तलाशने में सहायता प्रदान करना है।
आर्थिक समानता,
इस योजना के माध्यम से सरकार सामाजिक आर्थिक के समानता का बढ़ावा देना है ताकि सभी युवा इसके उपयोग कर सके। सभी बेरोजगार युवाओं को बराबरी का मौका देना।
रोजगार संगम भत्ता योजना का लाभ।
रोजगार का साधन,
रोजगार संगम भत्ता योजना के माध्यम से बेरोजगार युवाओं के पास उच्चतम शिक्षा और प्रशिक्षण प्राप्त करने का साधन देना।
कुशलता और विकास 
इस योजना के माध्यम से बेरोजगार युवाओं में कुशलता लाना है। बेरोजगार युवा आर्थिक तंगी के कारण अपने कौशल का विकास नहीं कर पाते इसलिए उन्हें इस भट्ट से काफी मदद मिलेगी।
कौशल प्रशिक्षण,
रोजगार संगम भत्ता योजना के माध्यम से बेरोजगार युवाओं में कौशल प्रशिक्षण का बढ़ावा देना है। जब उनकी आर्थिक स्थिति ठीक हो जाएगी तो वह अपने कौशल प्रशिक्षण का उच्चतम नौकरी में इस्तेमाल कर सकेंगे।
सामाजिक समृद्धि।
सरकार रोजगार संगम भत्ता योजना के माध्यम से बेरोजगार युवाओं में सामाजिक समृद्धि लाना चाहती है।
आर्थिक समानता,
भत्ता योजना के माध्यम से सरकार सामाजिक आर्थिक के समानता का बढ़ावा देना है। ताकि सभी युवा इसका उपयोग कर सके तथा सभी युवाओं को बराबरी का मौका मिले।
रोजगार संगम भत्ता योजना के लिए पात्रता।
रोजगार संगम भत्ता योजना के लिए निम्नलिखित पात्रता है।
1, आवेदक को उत्तर प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
2, आवेदक को उत्तर प्रदेश से अपनी शैक्षिक योग्यता पूरी की हो।
3, आवेदक को कम से कम 12वीं पास होना चाहिए।
4, आवेदक की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
रोजगार संगम भत्ता योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज।
रोजगार संगम भत्ता योजना के लिए निम्नलिखित दस्तावेज होना जरूरी है।
1, आधार कार्ड
2, उत्तर प्रदेश के निवास प्रमाण पत्र।
3, आय प्रमाण पत्र, 4, शैक्षणिक योग्यता का प्रमाण पत्र।
5, मोबाइल नंबर तथा बैंक पासबुक।
रोजगार संगम भत्ता योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें।
इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको रोजगार संगम धडकता योजना के अधिकारी को वेबसाइट, https//sewayojan.up.nic.in पर जाना होगा। इस अधिकारी हुए साइट पर जाने के बाद आपको होमपेज दिखाई देगा। होम पेज पर न्यारा स्टेशन का ऑप्शन आपको दिखाई देगा। इस ऑप्शन पड़ती करते हैं एक नया पेज ओपन होगा जहां आपको एक फॉर्म दिखाई देगा इस धर्म को ध्यान से पढ़कर पूरी डिटेल ठीक-ठीक भरना होगा। इसके बाद जरुरी दस्तावेज और फोटो अपलोड करना होगा। दस्तावेज और फोटो अगले अपलोड करने के बाद आपको सबमिट पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
रोजगार संगम  भत्ता योजना में पैसा कब मिलेगा
इस योजना में जब आप सफलतापूर्वक रजिस्ट्रेशन कर लेंगे उसके बाद इसकी जांच की जाएगी। जांच होने के बाद अगर आप इस योजना के कहां दे योग्य पाए जाते हैं तो प्रतिमा आपके बेटे अकाउंट में 1000 से 1500 रुपया मिलेगा।
आपको यह भी पसंद आ सकता है,प्रधानमंत्री स्वनिधि निधि योजना 2023।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ